OMG 

अफ़ग़ानिस्तान में जवान महिलाओ के साथ हो रही है ऐसी हरकते, देश छोड़ कर आने को तैयार है

 
crime

सोशल मीडिया पर #saveafghanwomen यह हैशटैग ट्रेंड कर रहा है और दुनिया भर के देशो से अपील करी जा रही है, कि दुनिया भर की सरकार इस हैशटैग को लेकर जितनी भी अफ़ग़ान महिलाये है उनकी सुरक्षा के लिए बात करे क्युकी असल तस्वीर काफी खतरनाक है। लगातार अफ़ग़ानिस्तान से खबरे आ रही है कि तालिबान अफगानी महिलाओ को ज़िंदा जला रहे है, उनके साथ जबरदस्ती जिस्मानी तलूक बना रहे है, और साथ ही वो महिलाये जो सास लेना चाहती है, बोलना चाहती है उन्हें देश छोड़ कर भागना पड़ रहा है वो भी चोरी छिपे क्युकी अफ़ग़ानिस्तान की हालत यह है कि वह पर महिलाओ के सरे अधिकार छीने जा रहे है।

i

तालिबान अपनी प्रेस्सकोंफ्रेस में भले ही कैसे भी वादे क्यों न करता रहे लेकिन लगातार जो खबरे आ रही है किसी महिला को ज़िंदा जला दिया जाता है क्युकी उसने खाना ठीक नहीं बनाया था, किसी को इसीलिए जला दिया जाता है क्युकी उसने बुरका नहीं पहना था, और आज स्तिथि यह है कि महिलाओ के हक़ में आवाज़ उठाने वाली कई लीडर्स भाग कर दूसरे देशो में शरण ले रही है, क्युकी उनकी जान को लगातार वह पर खतरा बना हुआ है।

p

अब यह समझ से बहार है कि तालिबान ऐसा कौनसा समाज और कौनसा देश बनाना चाहता है जो बिना महिलाओ के चल सकता है। बिना महिलाओ के न तो कोई संस्कृति आज तक चली और न कोई समाज आज तक चला और न ही कोई देश चला। यह हमारे ग्रह की आधी आबादी है और इस तरह का व्यवहार जो सामने आ रहा है वो सभी के लिए बहुत बड़ी परेशानी है। ऐसे में हर देश को इस बारे में बात करने की ज़रूरत है, आवाज़ उठाने की और अगर किन्ही भी देशो में अफगानी महिलाओ ने शरण ली है, तो उनकी बातो को सामने रखने की और उनके दर्द को सामने रखने की।

From around the web