Astro Gyan: शादी के बाद महिलाओं को भूलकर भी नहीं करनी चाहिए यह 5 गलतियां

 
astro

शादी जीवन की वह रीति है जिसे अच्छे से निभाया जाए तो ज़िन्दगी खुशहाल रहती है। समाज में ऐसी अवधारणा है कि अगर औरत सभी चीज़ों को सही से लेके चले तो शादी अच्छी चलेगी। महिलाओं पर घर की जिम्मेदारी के अलावा हर रिश्ते को निभाने का भार भी रहता है। कोई और रिश्ता तो बनके बिगड़ भी सकता है लेकिन अगर दाम्पत्य जीवन बिगड़ गया तो जीवन में बहुत सारी परेशानी आ जाती है।

आज हम ऐसे कुछ टिप्स बताने जा रहें है जिसे पढ़कर एक लड़की, जो विवाहिता बनने जा रही है, वह अपनी शादीशुदा ज़िन्दगी को अच्छी बना सकती है। एक खुशहाल शादीशुदा जीवन की जिम्मेदारी हमेशा लड़की पर होती है। इसलिए लड़कियों को नीचे बताये गए नियमों को मानना चाहिए-

1- पैसे खर्च करने में सावधानी


महिलाओं को घर की वित्तमंत्री कहा जाता है। इसलिए महिलाओं के सर पर पैसे खर्च करने के जिम्मेदारी होती है, जो महिला हिसाब-किताब सही रखती है उस घर में पैसे की कमी कभी नहीं रहती है। ऐसा देखा गया है कि जो महिलाएं पढ़ी लिखी नहीं रहती है वह भी घर को बड़े अच्छे से चलाती है क्योंकि वह घर की आर्थिक स्थिति को समझकर पैसे को खर्च करती हैं।

अगर आजकल की पढ़ी लिखी लड़कियां भी ढंग से से हालात समझकर पैसे को खर्च करें तो घर में कभी भी तंगी नहीं आयेगी।

2- नकारात्मक बातों को दरकिनार करें


अगर आप अपने रिश्ते को सुखमय बनाना चाहती हैं तो कभी भी नकारात्मक न सोचें और न ही अपने पति को सोचने दें। पति के सामने किसी की भी बुराई न करें, अगर आप ऐसा करती हैं तो सावधान हो जाएँ क्योंकि पति को लगता है कि जब आप उससे किसी तीसरे की बुराई करती है तो कहीं न कहीं आपके अंदर भी बुरी बातें हैं।

अगर आपके अंदर कुछ कमी है तो उसे सुधारें अगर आपके पति के अंदर कोई कमी है तो उसे किसी से न कहें बल्कि पति की उस आदत को सुधारें। जब पति अपनी पत्नी की बातें किसी दूसरे के मुंह से सुनता है, वो भी खासकर बुराई को तो पति के मन में हमेशा अपनी पत्नी के लिए नकारात्मक बातें आती हैं।

3- अपने को हमेशा प्राथमिकता देना


आजकल बहुत सारी शादियाँ टूट रहीं है। इसकी एक सबसे बड़ी वजह है कि कपल्स शादी के रिश्ते में अपने आप को वरीयता देते हैं, फिर चाहे जॉब हो या पसंद की चीज़ें। जब एक रिश्ते में दो इंसान अपने को हमेशा अपने हिसाब से चलाने की कोशिश करेंगे तो रिश्ता जरूर टूटेगा।

एक खुशहाल शादीशुदा ज़िन्दगी के लिए एक का नरम होना जरूरी है। अगर कपल में कोई एक अपनी पसंद को लेकर काम्प्रोमाईज करें तो कोई भी रिश्ता कभी नहीं टूटेगा।


 
ऐसा देखा गया है कि पत्नियाँ अपने बच्चे को लेकर बहुत ज्यादा भावुक होती हैं। बच्चे के लिए वह पति को भी इग्नोर कर देती हैं। आपको हमेशा ध्यान रखना चाहिए पति से बच्चे हैं। वो बच्चे केवल आपके अकेले के नहीं है। पति का भी उन बच्चों पर हक़ है इसलिए अपने लिए और बच्चों के लिए कभी भी पति को इग्नोर न करें, नहीं तो रिश्ता बहुत जल्दी टूट सकता है।

4-हमेशा प्यार जताएं


जिस हिसाब से किसी भी चीज़ को संभालें रखने के लिए उसको रिपेयर करने की जरूरत होती है ठीक उसी प्रकार शादी में भी यह ट्रिक लागू होती है। शादीशुदा जीवन में हमेशा पत्नी को चाहिए कि पति को यह जताए कि वह उनसे प्यार करती हैं। प्यार जताना न केवल रिश्ते को मजबूत बनाता है बल्कि यह रिश्ते में रोमांच भी पैदा करता है।

5- पति के साथ ईमानदार रहें


हर पत्नी को चाहिए कि वह पति के साथ ईमानदार रहें। चाहे रिश्ते की बात हो या आर्थिक मामलें को लेकर, हर बात पति के साथ शेयर करें। जब कोई भी पत्नी पति से बातें छुपाने लगती है तो यहीं से शादी का पतन शुरू हो जाता है। वैसे तो हर रिश्ते में ईमानदारी बहुत जरूरी होती है लेकिन दाम्पत्य जीवन में एक दूसरे के प्रति सच्चा रहने से शादी अच्छी चलती है।

From around the web